blogid : 249 postid : 1072

प्यार और दोस्ती के चक्कर में सारी हदें पार की !

Posted On: 14 Jun, 2013 मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

यंगस्टर्स होते ही ऐसे हैं प्यार और दोस्ती के चक्कर में कुछ भी कर गुजरते हैं. बहुत सारे पैसे कमाना और हर दिन नई लड़की को अपने प्रेम जाल में फंसाना यंगस्टर्स का शौक होता है. ऐसे में ये चारों दोस्त अपने-अपने सपनों को भूल कर प्यार और दोस्ती के चक्कर में सारी हदें पार कर देते हैं.

पुरुषों के साथ डेटिंग……ना बाबा ना !!


Fukrey Movie Review: Fukrey Movie Director

फिल्म: फुकरे

बैनर: एक्सेल एंटरटेनमेंट

निर्माता: फरहान अख्तर, रितेश सिधवानी

निर्देशक: मृगदीप सिंह लाम्बा

संगीत: राम सम्पत

कलाकार: पुलकित सम्राट, मनजोत सिंह, अली फज़ल, ऋचा चड्ढा, विशाखा सिंह

रिलीज डेट: 14 जून 2013

रेंटिग: ****


Fukrey Movie Review

फुकरे फिल्म के किरदार दिलचस्प

फिल्म फुकरे को देखने के बाद ये कहना गलत ना होगा कि फिल्म के किरदार बहुत ही एंटरटेनिंग हैं. फिल्म फुकरे की कहानी की तरह पहले भी बॉलीवुड में कई फिल्में बन चुकी हैं पर फिर भी बहुत कुछ ऐसा है जो फिल्म में नया है. फिल्म फुकरे की कहानी ऐसे चार लड़कों की कहानी है जो पैसा कमाने और अपने सपने पूरे करने के लिए शॉर्टकट का इस्तेमाल करते हैं. हनी और चूचा काफी अच्छे दोस्त हैं. चूचा (वरुण धवन) कुछ अजीब से सपने देखता है जिन्हें वो जब हनी (पुलकित सम्राट) को बताता है तो वो उन सपनों को सुनकर कुछ नंबर बनाता है और फिर उन्हीं नंबर की लॉटरी खरीदता है. वो लॉटरी हमेशा लगती है और उन्हें पैसे मिलते रहते हैं. एक दिन हनी प्लान बनाता है कि वो इस तरीके को यूज करके ढेर सारा पैसा बनाएंगे. उसी दौरान लाली (मंजोत सिंह) और ज़फर (अली फजल) भी चूचा और हनी से मिलते हैं और अपने कुछ सपने को पूरा करने के लिए उनके साथ मिल जाते हैं. चारो दोस्त मिलकर भोली पंजाबन (ऋचा चड्ढा) से मिलते हैं जो कि एक फीमेल गैंगेस्टर है और उससे फाइनेंस करने को कहते हैं. भोली पंजाबन भी उनके साथ मिल जाती है लेकिन फिर कुछ ऐसे हादसे होते हैं जिनकी वजह से चारों की लाइफ बदल जाती है और उनके सारे सपने टूट जाते हैं.

ऐसी लड़की को देख कोई भी लड़का घबरा जाएगा !!


Fukrey Movie Review

क्यों देखें ?

फिल्म फुकरे यंगस्टर्स के लिए काफी एंटरटेनिंग फिल्म है जिसमें उन्हें बहुत कुछ सीखने का मौका मिल सकता है.

Fukrey Movie Review

क्यों ना देखें ?

यंगस्टर्स को लेकर पहले भी काफी फिल्म बनाई जा चुकी है और यदि आपको यंगस्टर्स की एंटरटेनिंग फिल्म नहीं पसंद तो ना देखें.

शराबी नहीं तो क्या बन तो सकता हूं !!


Tags: Fukrey Movie, Fukrey Movie Review, Fukrey,Fukrey Movie Director, Farhan Akhtar, Fukrey Movie Review, फरहान अख्तर, फुकरे फिल्म, फुकरे











Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 1.50 out of 5)
Loading ... Loading ...

3 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

ruchi के द्वारा
June 14, 2013

प्यार और दोस्ती के चक्कर हद है

SIKHA के द्वारा
June 14, 2013

प्यार और दोस्ती के चक्कर में सारी हदें पार की !z

    Shanna के द्वारा
    July 12, 2016

    - We always boiled them five times. Then cooked them. That was part of our prep. Do you drain the olevsi? We never used olives in our cooking of them.


topic of the week



latest from jagran