blogid : 249 postid : 1031

Nautanki Saala Film Review in Hindi: मजेदार है नौटंकी साला की नौटंकी

Posted On: 12 Apr, 2013 Others,मस्ती मालगाड़ी में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

इस सप्ताह फिर से आपको हंसाने के लिए आ गया है विक्की डोनर उर्फ नौटंकी साल उर्फ आयुष्मान खुराना. विक्की डोनर फिल्म के जरिए बॉलिवुड में जबरदस्त प्रदार्पण करने के बाद एक बाद फिर दर्शकों को हंसते-हंसते लोटपोट करने के लिए आज नौटंकी साला के जरिए आयुष्मान खुराना वापसी कर चुके हैं. फिल्म के दृश्य आपको हंसाएंगे और जगह-जगह मौजूद कलाकारों की केमिस्ट्री आपको अपने कॉलेज के दिनों की याद जरूर दिलवा देगी.


मोदी की भतीजी अब फिल्मों में नजर आएगी !!


बैनर: रमेश सिप्पी एंटरटेनमेंट, टी-सीरिज सुपर कैसेट्स इंडस्ट्री लि.

निर्माता: रमेश सिप्पी, भूषण कुमार, किशन कुमार

निर्देशक: रोहन सिप्पी

कलाकार: आयुष्मान खुराना, कुणाल रॉय कपूर, पूजा साल्वी, अभिषेक बच्चन (मेहमान कलाकार)

रेटिंग: ***



नौटंकी दिखाने आ रहा है साला


राम परमार (Aayushman khurana) एक थियेटर आर्टिस्ट है और एक दिन घर जाते समय वह मंदार लेले (Kunal Roy Kapoor)  से टकरा जाता है. मंदार सुसाइड करने की कोशिश कर रहा होता है और राम उसे बचाकर उसकी सारी समस्याएं सुलझाने के लिए उसे प्रॉमिस करता है. वह मंदार की प्रॉब्लम सॉल्व करने की कोशिश तो करता है लेकिन मंदार की समस्याएं बढ़ती ही जा रही हैं. इस दौरान एंट्री होती है नंदिनी (Pooja Salvi)  की. वह मंदार का खोया हुआ प्यार है और अब राम भी उसे चाहने लगता है. नंदनी से मिलने से पहले राम ने यह वायदा किया था कि वह मंदार को उसके बिछड़े प्यार से मिलाएगा लेकिन अब राम को ही नंदिनी से प्यार हो गया है. बस इसी बीच शरारतों और कॉमेडी का जबरदस्ट पुट देकर फिल्म को एक हिट कॉमेडी फ्लेवर में ढाला गया है.



लिव-इन में रहना मेरी मर्जी थी !!



अभिनय: राम और मंदार के रोल में आयुष्मान खुराना और कुणाल रॉय कपूर बेस्ट साबित हुए हैं साथ ही नंदिनी के रोल में भी पूजा बेहतरीन साबित हुई हैं. यह तिकड़ी जगह-जगह पर दर्शकों को हंसाने में पूरी तरह कामयाब साबित हुई है. आयुष्मान खुराना ने यह प्रूव किया है कि विक्की डोनर के लिए हुई उनकी तारीफ बस एक इत्तेफाक नहीं थी.


शर्लिन चोपड़ा को भी शर्म आती है !!


निर्देशन: रमेश सिप्पी के बेटे रोहन सिप्पी इससे पहले कई बड़े बजट की फिल्मों का निर्देशन कर चुके हैं. यह उनकी पहली स्मॉल बजट फिल्म थी जो उनकी सारी फिल्मों से बेहतर साबित होने के लिए तैयार है. हालांकि कई-कई जगहों पर फिल्म काफी स्लो हुई है लेकिन बेहतरीन कहानी और कॉमेडी के एवज में यह गलती माफ की जा सकती है.


क्यों देखें: सिचुएशनल कॉमेडी पसंद हो तो

क्यों ना देखें: हंसने से परहेज करते हैं तो


‘इश्क होता नहीं सभी के लिए’ : सलमान खान

तलाक की तलाश में भटकती आयशा टाकिया


Tags: Aayushman khurana, Nautanki Saala Movie,नौटंकी साला फिल्म प्रिव्यू, nautaknki sala hindi movie, hindi movie nautanki sala, नौटंकी साला, फिल्म प्रिव्यू, movie review in hindi, nautanki saala movie review in hindi



Tags:                   

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Lakiesha के द्वारा
July 12, 2016

Guerra civil? Quem é falou nisso?Leia devagarinho e depois consulte os compêndios de História (não a brilhante fac£§filaÃiÃso de Eisenstein, mas História a sério):«E o golpe que levou à tomada do poder por Lenine?»


topic of the week



latest from jagran