blogid : 249 postid : 796

मॉडर्न अवधारणा को दर्शाती विक्की डोनर [Vicky Donor]

Posted On: 20 Apr, 2012 Others,social issues में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

फिल्मी सितारों का अभिनय के अलावा निर्माण क्षेत्र में उतरना कोई नई बात नहीं है. आमतौर पर ज्यादातर अभिनेता पर्दे पर अदाकारी का जौहर दिखाने के बाद फिल्म का निर्देशन या फिर उसके निर्माण में भी हाथ आजमाने के लिए तैयार रहते हैं. लेकिन अब जब जॉन अब्राहम जैसे युवा अभिनेता निर्माण के क्षेत्र में उतर रहे हैं तो निश्चित है कि फिल्म की कहानी और उसकी अवधारणा भी युवाओं को ध्यान में रखकर ही बनाई जाएगी. आज रिलीज हुई फिल्म विक्की डोनर जॉब अब्राहम के प्रोडक्शन हाउस जेए इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड की पहली फिल्म है.


vickyविक्की डोनर की कहानी: Story of Vicky Donor


विक्की डोनर दिल्ली में रहने वाले एक मध्यमवर्गीय परिवार के बेरोजगार बेटे की कहानी है जो एक बंगाली युवती आशिमा के प्रेम में पड़ जाता है. विक्की के परिवार में सिर्फ उसकी दादी और मां हैं, जिनकी सारी जिम्मेदारी उस पर है. बेरोजगार विक्की को डॉ. चड्ढा का साथ मिलता है और वह पैसा कमाने के लिए स्पर्म दान करने लगता है. विक्की से नाराज होकर जब आशिमा कोलकाता चली जाती है तो विक्की का पक्ष लेते हुए उसके पिता उसकी सभी भ्रांतियों को दूर कर विक्की और आशिमा को दोबारा मिलवा देते हैं.


कलाकार: अन्नू कपूर, आयुष्मान खुराना, डॉली अहलूवालिया, कमलेश गिल


निर्देशक: शुजित सरकार, जॉन अब्राहम


निर्माता: जेए इंटरटेनमेंट प्राइवेट लिमिटेड


तकनीकी टीम: जूही चतुर्वेदी, जयंत दास

रेटिंग: ***


vicky dफिल्म समीक्षा: Movie Review of Film Vicky Donor


फिल्म के लेखक-निर्देशक ने हीरो-हीरोइन से ना तो बेवजह के गाने गवाए हैं और ना ही उन्हें जबरदस्ती के रोमांटिक सीन दिए हैं. यह फिल्म का एक बेहतरीन पहलू है. चढ्डा की भूमिका में आए अन्नू कपूर इस फिल्म की जान हैं. अपनी अदाकारी में बगैर किसी ऊल-जुलूल हरकत किए वे अपनी सादगी से दर्शकों को हंसाने में कामयाब रहे हैं.


अन्नू कपूर और आयुष्मान खुराना की जुगलबंदी से विक्की डोनर शुरू से आखिर तक बांधे रखती है. लेखक-निर्देशक ने फिल्म की साइड स्टोरी के रूप में विक्की की दादी और मां के बीच के अनोखे रिश्ते और आशिमा के पिता के मॉडर्न दृष्टिकोण को बखूबी पर्दे पर उतारा है. विक्की की दादी और मां की शराबनोशी और उस दरमियान चल रही बातों पर हंसी आती है, लेकिन उनके संघर्ष और अकेलेपन का दर्द भी महसूस होता है.


कुल मिलाकर कहा जाए तो विक्की डोनर अच्छी फिल्म है. पर्दे पर इसे इसे देखना पैसा वसूल ही साबित होगा.


विक्की डोनर फिल्म के जरिए निर्देशक ने स्पर्म दान करने से संबंधित सभी भ्रांतियों तथा पूर्वाग्रहों को दूर करने का प्रयत्न किया है, जिसमें वह बहुत हद तक सफल भी हुए हैं.


अब सन्नी लियोन नहीं करेंगी पोर्न फिल्में

Read Hindi News





Tags:                                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (1 votes, average: 1.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

1 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Taron के द्वारा
July 12, 2016

Meadia discussed the possibility of an inotznaeionaliratitn of the Syria crisis, with Turkey and Iran being the chief belligerents. Events this week are edging closer to a wider Middle East war amid the crumbling wreckage of the Levant”Amid dismal economic and political news from US and from Europe – a bright shiny light of hope.May the brave armies of Turkey and Iran under the wise leadership of talented and experienced generals succeed hugely in the coming battles, both of them.


topic of the week



latest from jagran